कुवैत की एक इमारत में आग लगने से 41 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई और 50 से अधिक अन्य घायल हो गए। मरने वालों में कई भारतीय शामिल हैं। कुवैत के समयानुसार ये हादसा बुधवार सुबह करीब 6 बजे हुआ। सुबह मंगाफ शहर में छह मंजिला इमारत की रसोई में आग लग गई। इमारत में बड़ी संख्या में कर्मचारी रहते थे। दर्जनों लोगों को बचा लिया गया, लेकिन कई मौतें धुएं की वजह से दम घुटने से हुईं।कुवैत के आंतरिक मंत्री (Ministry of Interior) शेख फहद अल यूसुफ ने इस घटना को ‘रियल डिजास्टर’ बताया

लालच की वजह से ही ऐसी घटनाएं होती हैं’

कुवैत के उपप्रधानमंत्री शेख फहद यूसुफ सौद अल-सबाह ने घटनास्‍थल का दौरा कर घटना के बारे में जानकारी दी। उन्‍होंने इस भीषण अग्निकांड के लिए रियल एस्‍टेट ऑनर को जिम्‍मेदार ठहराया है। उन्‍होंने कहा कि रियल एस्‍टेट ऑनर की लालच की वजह से यह भयावह घटना घटित हुई है। डिप्‍टी पीएम शेख फहद के पास गृह विभाग के साथ ही रक्षा मंत्रालय की भी जिम्‍मेदारी है।

भारतीय दूतावास ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

कुवैत स्थित भारतीय दूतावास ने इसे लेकर हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। दूतावास का कहना है कि इस अग्निकांड में भारतीयों की मौत के संबंध में जानकारी हासिल करने के लिए +965-65505246 हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क किया जा सकता है। दूतावास की तरफ से हर संभव मदद का ऐलान किया गया है।PM मोदी ने जताया दुख
कुवैत की घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है। उन्होंने X पर लिखा, कुवैत शहर में आग लगने की घटना दुखद है। मेरी संवेदनाएं उन सभी लोगों के साथ हैं जिन्होंने अपने प्रियजनों को खो दिया है। मैं प्रार्थना करता हूं कि घायल लोग जल्द से जल्द ठीक हो जाएं। कुवैत में भारतीय दूतावास स्थिति पर बारीकी से नजर रख रहा है और प्रभावितों की सहायता के लिए वहां के अधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रहा है।विदेश मंत्री एस जयशंकर ने जताया दुख, दिया सहायता का भरोसा
कुवैत शहर में आग लगने की घटना पर विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर ने X पर कहा, ‘आग लगने की घटना सुनकर बहुत दुख हुआ। खबर है कि 40 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है और 50 से ज्यादा लोग अस्पताल में भर्ती हैं। हमारे राजदूत शिविर में गए हैं। हम आगे की जानकारी का इंतजार कर रहे हैं। दुखद रूप से अपनी जान गंवाने वालों के परिवारों के प्रति मेरे गहरी संवेदना है। घायलों के शीघ्र और पूर्ण स्वस्थ होने की कामना करता हूं। हमारा दूतावास इस संबंध में सभी संबंधित लोगों को पूरी सहायता देगा।’भारतीय

राजदूत ने घायलों से की मुलाकात

कुवैत में भारत के राजदूत आदर्श स्वैका ने अल-अदन अस्पताल का दौरा किया, जहां आग की घटना में घायल हुए 30 से अधिक भारतीय लेबर को भर्ती कराया गया है। उन्होंने कई मरीजों से मुलाकात की और उन्हें दूतावास की ओर से पूरी सहायता का आश्वासन दिया। अस्पताल अधिकारियों ने बताया कि लगभग सभी की हालत स्थिर है।बता दें कि कुवैत में करीब 10 लाख भारतीय रहते हैं, जिनमें से करीब 9 लाख भारतीय वहां काम करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed