आज होने वाले बदलावों में रसोई गैस के दाम से लेकर पेट्रोल-डीजल की कीमत तक कई बदलाव शामिल हैं। इन वित्तीय बदलावों का असर व्यापारियों से लेकर आम आदमी के बजट पर पड़ेगा। बता दें कि हर महीने की शुरुआत में कंपनियां रसोई गैस की कीमतों को तय करती हैं। पेट्रोल-डीजल की कीमतों में भी बदलाव हो सकता है। आइए आपको बताते हैं नवंबर में होने जा रहे इन बदलावों के बारे में।
रसोई गैस की कीमत में राहत मिलने की उम्मीद नहीं। These 5 rules will change from today हर महीने की पहली तारीख को कंपनियां एलपीजी, पीएनजी और सीएनजी की कीमतों को तय करती हैं। कई बार कंपनियां कीमतों को स्थिर भी रखती हैं। इस बार नवंबर में त्योहारों का सीजन शुरू हो रहा है। ऐसे में कीमतों के बढ़ने पर आम आदमी पर सबसे ज्यादा असर पड़ेगा जीएसटी के नियम। These 5 rules will change from today
आज एक नवंबर से जीएसटी से जुड़े नियमों में बदलाव होने जा रहा है। राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र के मुताबिक एक नवंबर से 100 करोड़ रुपये या उससे ज्यादा के कारोबार करने वाले फर्मों को एक नवंबर से 30 दिनों के अंदर ई-चालान पोर्टल पर जीएसटी चालान अपलोड करना पड़ेगा।
पॉलिसी शुरू कराने का मौका। These 5 rules will change from today
अगर आप भारतीय जीवन बीमा निगम की बंद पॉलिसी को चालू कराना चाहते हैं तो आपके पास आखिरी मौका है। बीते दिन यानी 31 अक्टूबर तक था। एक नवम्बर के बाद इसे चालू कराने पर आपको समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।
इंपोर्ट को लेकर डेडलाइन। These 5 rules will change from today
30 अक्तूबर तक सरकार ने HSN 8741 कैटेगरी के अंदर आने वाले लैपटॉप, टैबलेट और कई इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट के इंपोर्ट पर छूट दी थी। हालांकि, एक नवंबर से सरकार इसको लेकर नियमों में बदलाव करेगी या नहीं? इस विषय पर सरकार ने अभी तक कोई फैसला नहीं लिया है।
शेयर बाजार में चुकाना पड़ेगा अतिरिक्त पैसा। These 5 rules will change from today
बाम्बे स्टॉक एक्सचेंज ने 20 अक्तूबर को एलान किया था कि नवंबर की पहली तारीख से इक्विटी के डेरिवेटिव सेगमेंट में लेन-देन पर शुल्क बढ़ जाएगा। ऐसे में नवंबर की पहली तारीख से शेयर बाजार में लेन-देन पर निवेशकों को कुछ अतिरिक्त पैसा चुकाना पड़ सकता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed