प्रख्यात वरिष्ठ फिजिषियन डा. एस.डी. जोषी ने कहा है कि एलोपैथिक के साथ ही नेचुरोपैथी से भी मरीजों का इलाज संभव है। उन्होंने कहा कि डॉक्टर मरीज की दोस्ती प्रकृति और पर्यावरण से करा दे तो वह जल्द स्वस्थ हो सकता है। डॉक्टर एसडी जोषी के नेतृत्व में डाक्टरों का एक ग्रुप अब मरीजों का ईलाज के साथ-साथ उन्हें पर्यावरण के प्रति जागरूकता के लिए प्रेरित करेगा देहरादून के जोगीवाला चौक बद्रीपुर स्थित शंकर पॉली क्लीनिक में डा. एसडी जोषी ने आज एक

महत्वपूर्ण प्रेसवार्ता का आयोजन किया। इस दौरान उन्होंने साल 2024 की अपनी कार्ययोजना को सामने रखा। डॉक्टर एसडी जोषी ने कहा कि मरीज यदि अपनी बीमारी के दौरान प्रकृति से नाता जोड़ लें तो उसे स्वस्थ होने में सहायता मिलेगी साथ ही पर्यावरण के प्रति

ष्जागरूकता भी बढ़ेगी। उन्होंने बताया कि यदि सांस का मरीज कहीं लोगों को कूड़ा जलाते हुए देखे तो उसे रोके, इसके अलावा अधिक प्रदूषण वाले वाहन चालक को भी सचेत करे। इसी तरह अन्य लोग भी पर्यावरण जागरूकता को लेकर कार्य करें। उन्होंने कहा कि दून के डॉक्टरों का एक गु्रप इसी तरह मरीजों को नेचर के प्रति जागरूक करने का काम करेगा। गौरतलब है कि

नेचुरोपैथी में सभी बीमारियों का इलाज प्राकृतिक तरीके से ही किया जाता है और यह चिकित्सा, थेरेपी, आहार और गतिविधि का एक संयोजन होता है डॉ एसडी जोषी, वरिष्ठ फिजीषियन डॉ एसडी जोषी अभी तक राज्य के विभिन्न जनपदों में 60 से अधिक निषुल्क हैल्थ कैंप लगा चुके हैं। इसमें ईलाज के साथ-साथ दवाईयां व कई तरह की जांचे मुफ्त की जाती हैं। इस साल 2024 की कार्ययोजना की जानकारी देते हुए डॉक्टर एसडी जोषी ने बताया कि फरवरी माह में चमोली जिले के देवालखंड के खेता गांव में एक निषुल्क मेडिकल कैंप का आयोजन किया जाएगा। यह कैंप विचार एक नई सोच संस्था के साथ मिलकर आयोजित किया जाएगा। इसके बाद सिलक्यारा टनल के निकट ब्रह्र्रमखाल, चमोली के मेल्ठा में भी मेडिकल कैंप लगाया जाएगा। इसके साथ ही कुमांऊ मंडल के सीमांत जनपदों में निषुल्क हैल्थ कैंप लगाने की योजना है। हैल्थ कैंप के अलावा एक जून को हर साल की तरह विषाल रक्तदान षिविर का आयोजन किया जाएगा। इसके बाद 01 जुलाई में डॉक्टर्स डे पर डॉक्टरों और सामाजिक क्षेत्र में कार्य करने वाली विभूतियों को सम्मानित किया जाएगा डॉक्टर एसडी जोषी ने कहा कि ठंड के मौसम में सभी को अपनी सेहत का खास ख्याल रखने की आवष्यकता है। आपकी जरा सी चूक आपको बीमार कर सकती है। सर्तकता ही आपको बीमारियों से बचा सकती है। वहीं इस मौके पर डा. जोषी ने प्रसिद्व दवा कंपनी मैनकाइंड कंपनी के सहयोग से जरूरतमंदों को 60 से अधिक कंबल भी वितरित किये। प्रेसवार्ता में उनके साथ मैनकाइंड के मैनेजर अमित गुप्ता और रवि षर्मा भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed