वर्तमान में प्रदेश भर में चलाए जा रहे “ऑपरेशन मुक्ति” अभियान (भिक्षा नहीं शिक्षा दे) के जनपद देहरादून में सफल क्रियान्वयन हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा ऑपरेशन मुक्ति की टीम को आवश्यक दिशा निर्देश दिये गए है। जिनके अनुपालन में एन्टी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट देहरादून द्वारा देहरादून में विभिन्न बस्तियों में भ्रमण कर लगातार बाल भिक्षावृति, कूड़ा बीनने तथा बाल श्रम में लिप्त बच्चों कुछ चिन्हित किया जा रहा है एण्टी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट देहरादून को त्रिवेणी घाट ऋषिकेश में 01 बालक अकेला घूमता मिला जोकाफी घबराया हुआ था, बालक से उसका नाम पता पर पूछने पर बालक द्वारा अपना नाम बॉबी सिंह पुत्र शूरबीर सिंह निवासी- मंडाली, जनपद टिहरी गढ़वाल, उम्र 12 वर्ष बताया। बालक द्वारा अपने भाई का नाम विवेक व चण्ढीगड़ में नौकरी करना बताया गया। बालक को परिजनों का नम्बर मालूम नहीं होने के कारण परिजनों से सम्पर्क नहीं हो पाया बालक की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मौके पर बालक को सकुशल रेस्क्यू कर उसका मेडिकल परीक्षण कराने के उपरान्त बाल कल्याण समिति देहरादून के समक्ष पेश कर उनके आदेशानुसार बालक को समर्पण खुला आश्रय गृह चन्दन नगर देहरादून में संरक्षण दिलवाया गया। बालक के परिजनों से सम्पर्क किया जा रहा है, सम्पर्क होने पर बालक को परिजनों के सुपुर्द किया जायेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed