इस बार दर्शन के लिए VVIP को करना होगा इंतजार, जानें यात्रा की तैयारियों को लेकर अपडेटबदरीनाथ और केदारनाथ में इस बार वीवीआईपी को दर्शन करने के लिए इंतजार करना होगा। इसके लिए बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति की ओर से वीवीआईपी के दर्शन के लिए दिनभर में तीन स्लाट बनाए जाएंगे चारधाम यात्रा की तैयारियों को लेकर गढ़वाल मंडल आयुक्त विनय शंकर पांडेय ने नगर निगम सभागार में विभागीय अधिकारियों संग बैठक कर 30 अप्रैल से पहले तैयारियां पूरी करने के निर्देश दिए। आयुक्त ने कहा, इस बार में चारधाम यात्रा में सीएचसी और पीएचसी के डॉक्टरों की ड्यूटी नहीं लगेगी। यात्रा के लिए अलग से डॉक्टरों की ड्यूटी लगानी होगी, चाहे इसके लिए स्वास्थ्य विभाग को कुमाऊं से डाॅक्टर बुलाने पड़े। कहा, चारधाम यात्रा में डॉक्टरों की ड्यूटी लगाने से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में स्थिति बिगड़ जाती है उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अफसरों को निर्देश दिए कि इस बार चारधाम यात्रा के लिए डॉक्टरों की ड्यूटी का अलग से 15 मार्च तक रोस्टर बनाया जाए। उसकी सूची आयुक्त कार्यालय को उपलब्ध कराई जाए। डॉक्टरों की कमी को पूरी करने के लिए कुमाऊं से डॉक्टर मंगाए जाएं। डीएम को उन्होंने निर्देश दिए कि यमुनोत्री और केदारनाथ मार्ग पर गरम पानी की व्यवस्था और 24 घंटे शौचालयों की सफाई करने के निर्देश दिए।वीवीआईपी को दर्शन के लिए करना होगा इंतजार

बदरीनाथ और केदारनाथ में इस बार वीवीआईपी को दर्शन करने के लिए इंतजार करना होगा। इसके लिए बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति की ओर से वीवीआईपी के दर्शन के लिए दिनभर में तीन स्लाट बनाए जाएंगे। दर्शन के लिए उन्हें मंदिर समिति के अतिथि गृह में इंतजार करना होगा।

केदारनाथ मंदिर तक गोल्फ कार से जाएंगे हेली यात्री
हेली सेवा का उपयोग करने वाले बुजुर्ग यात्रियाें को इस बार स्थानीय प्रशासन की ओर से केदारनाथ में हेलीपैड से लेकर मंदिर तक गोल्फ कार और थार वाहन से मंदिर तक पहुंचाया जाएगा। डीएम ने बताया वाहनों की खरीददारी की जा रही है।

जेसीबी, पोकलेन नहीं, अब बड़ी मशीन मंगाएं
डीएम टिहरी मयूर दीक्षित ने कहा, चारधाम यात्रा के दौरान स्लाइडिंग जोन में लगातार बड़े-बड़े बोल्डर और मलबा गिरने से राष्ट्रीय राजमार्ग खंड की ओर से मुहैया कराए गए जेसीबी और पोकलेन मशीनों से मलबा साफ नहीं हो पाता। ऐसे में हाईवे से बोल्डर साफ करने को प्रशासन को रेल विकास निगम और एलएंडटी कंपनी के अधिकारियों से बात कर उनसे मलबा साफ करने के लिए बड़ी मशीनें मांगनी पड़ती है। इसके लिए एनएच डिवीजन की ओर से मलबा साफ करने के बड़े वाहन उपलब्ध कराने चाहिए।
सीतापुर में 700 वाहनों की पार्किंग बढ़ेगी
डीएम रुद्रप्रयाग डॉ. सौरभ गहरवार ने कहा, केदारनाथ यात्रा पर जाने वाले वाहनों के लिए सीतापुर में 700 वाहनों की पार्किंग बढ़ाई जा रही है। सोनप्रयाग में शटल सेवा पार्किंग इंटरलॉक टाइल्स से बनेगी। शटल सेवा के लिए प्रति यात्री 50 रुपये तय हैं। स्थानीय लोगों के घोड़े गौरीकुंड तक जाएंगे। बाकी घोड़े पीछे रोके जाएंगे। बीआरओ के अधिकारी विजय सैलीवन ने कहा, सीमा सड़क संगठन की ओर से धरासू बैंड और जोशीमठ में बोतलनेक पर काम किया जाएगा।
शटल सेवा के लिए परिवहन विभाग को मिलेंगे 18 पीआरडी जवान
सोनप्रयाग से गौरीकुंड तक शटल सेवा चलाने के लिए परिवहन विभाग को 18 पीआरडी जवान मिलेंगे। यह पीआरडी जवान तीन शिफ्टों में काम करेंगे। एक शिफ्ट में तीन जवान सोनप्रयाग और तीन गौरीकुंड की ओर तैनात रहेंगे। परिवहन विभाग अबकी सोनप्रयाग से गौरीकुंड के बीच बाइकों का भी संचालन करेगा, जिससे जाम की स्थिति से बचा जा सकेगाचारधाम यात्रा में 2507 बसें होंगी संचालित
आरटीओ (प्रशासन) सुनील शर्मा ने बताया, चारधाम यात्रा में 1707 बसें उपलब्ध हैं, जो 800 बसें लोकल रूटों पर चलती हैं उनको मिलाकर 2507 बसें चारधाम यात्रा में संचालित होंगी।
कहा, वाहन चालकों की नियमित चेकिंग के लिए एक डॉक्टर उपलब्ध कराया जाए। जब भीड़ बढ़ जाती है, तब यात्री बसों को न रोका जाए। यात्री बसों को रोकने से यात्रियों का शेड्यूल बिगड़ जाता है। केवल प्राइवेट वाहनों को रोका जाए। परिवहन विभाग की ओर से पिछले साल की तरह इस बार भी चार चेक पोस्ट भद्रकाली, ब्रह्मपुरी, कुठाल गेट, डामटा में बनाए जाएंगे।
कहा, डामटा की चेक पोस्ट का स्थान बदला जा रहा है। गढ़वाल आयुक्त ने पौड़ी, टिहरी, चमोली, उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग के पुलिस कप्तानों को निर्देश दिए कि वह एक सप्ताह के अंदर दुर्घटना स्थलों को चिह्नित कर रिपोर्ट बनाकर अपने जिलाधिकारियों के सुपुर्द करें। साथ ही जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के साथ मिलकर वहां पर साइनबोर्ड लगाए जाएं। गढ़वाल आयुक्त ने चारधाम यात्रा मार्ग में शराब का प्रचलन रोकने के निर्देश जिले के पुलिस कप्तानों को दिए। कहा, वह आबकारी अधिकारियों के साथ मिलकर अवैध शराब बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई करें। कहा, इस बार हेमकुंड साहिब में स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर बैठेंगे। अभी तक हेमकुंड साहिब जाने के लिए गोविंदघाट से हेमकुंड साहिब तक कहीं डॉक्टर नहीं बैठते थे।
यमुनोत्री मार्ग के शौचालयों का संचालन शुलभ करेगा
अभी तक यमुनोत्री मार्ग पर शौचालयों का संचालन जिला पंचायत उत्तरकाशी की ओर से किया जाता था, लेकिन अब गढ़वाल आयुक्त ने शौचालयों के संचालन के लिए सुलभ इंटरनेशनल को निर्देश दिए हैं। जल संस्थान की ओर से बताया गया कि विभाग की ओर से वाटर एटीएम और आरओ लगाए जाएंगे। जिन स्थानों पर स्टैंड पोस्ट बंद पड़े हैं उन्हें ठीक किया जा रहा है। विभाग की ओर से चारधाम यात्रा में कुछ प्लंबर अनुबंधित किए जा रहे हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed