अभियुक्त से पूछताछ में पुलिस को मिली सुबोध गैंग से जुड़ी अहम जानकारियां

अभियुक्त बिहार जेल में बंद राजीव सिंह उर्फ पुल्लू सिंह उर्फ सरदार के माध्यम से आया था सुबोध व शशांक के संपर्क में

राजीव तथा सुबोध के कहने पर अभियुक्त द्वारा अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर सांगली महाराष्ट्र में रिलायंस शोरूम में की थी डकैती की घटना

देहरादून में रिलायंस शोरूम में हुई डकैती की घटना की रैकी में भी शामिल था अभियुक्त

अभियुक्त के मोबाइल से पुलिस को राजीव तथा सुबोध के साथ जेल से हुई बातचीत के मिले अहम सुराग

सुबोध तथा राजीव को बी वारंट पर लाने की दून पुलिस कर रही तैयारी

सांगली महाराष्ट्र में 04 जून 2023 को हुई रिलायंस शोरूम में डकैती की घटना के मुख्य अभियुक्त अनिल सोनी उर्फ डीएसपी को देहरादून पुलिस द्वारा दिनाँक 16/01/24 को यमुनानगर हरियाणा से गिरफ्तार किया गया था, जिसे आज माननीय न्यायालय के समक्ष पेश कर जेल भेजा गया।

अभियुक्त से पूछताछ में उसके द्वारा बताया कि वह भिंड ग्वालियर मध्य प्रदेश का रहने वाला है और वर्तमान में कच्छ गुजरात में सपरिवार रह रहा है। पूर्व में वह दुकानों से मोबाइल ठगने का काम करता था, जिसमे वह मोबाइल की दुकान पर जाकर दुकानदार से मोबाइल लेकर उसे कुछ रुपए नगद देता था तथा अपने मोबाइल से NEFT का फर्जी msg दुकानदार को दिखाकर वहाँ से चला जाता था।

वर्ष 2022 में उसने भिवाड़ी और जयपुर में इसी प्रकार की मोबाइल फ्राड की घटना की थ, जिसमे वह माह अगस्त में भिवाड़ी थाने गिरफ्तार होकर किशनगढ़ जेल गया था, जहाँ उसकी मुलाकात राजीव कुमार सिंह उर्फ पुल्लु सिंह उर्फ सरदार से हुई। वहीं राजीव सिंह द्वारा अपने साथ काम करने तथा उसके एवज में अच्छा पैसा मिलने की बात कही गई तथा बताया कि उनका एक गैंग है, जो ज्वेलर्स की दुकानों में लूट की घटनाएं करवाता है, जिसमे उन्हें काफी मुनाफा मिलता है।

जेल में राजीव द्वारा उसे एक एडवोकेट नाम के व्यक्ति का नंबर देते हुए जरूरत पड़ने पर उससे अपने नाम से पैसे मांगने की बात कही गई। जेल से जमानत पर बाहर आने के बाद अभियुक्त अनिल द्वारा उक्त एडवोकेट से संपर्क कर उससे कुछ पैसे मांगे गए। कुछ दिनों बाद शशांक द्वारा बेऊर जेल पटना से वर्चुअल नंबर से अनिल से संपर्क किया तथा राजीव और सुबोध से उसकी बात कराई, जिनके द्वारा उसे सांगली महाराष्ट्र में घटना करने के लिए बताया, जहाँ अभियुक्त अनिल द्वारा गैंग के अन्य सदस्यों छोटू राणा, यमराज, चमत्कार, सिकंदर ,अन्ना आदि लोगों के साथ मिलकर लूट की घटना का अंजाम दिया।

उक्त घटना में अभियुक्त को ठीक-ठाक पैसे मिले, जिसके बाद सितंबर 2023 में शशांक ,सुबोध सिंह और राजीव सिंह ने उसे देहरादून में ज्वेलर्स की दुकान की रैकी के लिए भेजा, अभियुक्त द्वारा राजपुर रोड में रिलायंस ज्वेलर्स शोरूम की रैकी कर उसे घटना के लिए उपयुक्त बताते हुए इसकी जानकारी राजीव तथा सुबोध को दी, उसके पश्चात राहुल चोदा, अविनाश, प्रिंस उर्फ सिंघम, अखिलेश उर्फ गांधी तथा विक्रम ने मिलकर नवंबर में घटना को अंजाम दिया।

अभियुक्त अनिल सोनी के मोबाइल से पुलिस को राजीव सिंह उर्फ पल्लू सिंह उर्फ सरदार से पटना बेऊर जेल के अंदर रहते हुई बातचीत का वीडियो तथा शशांक सिंह से बातों की ऑडियो रिकॉर्डिंग मिली है, जिसके आधार पर विवेचनात्मक कार्रवाई कर सुबोध सिंह और राजीव सिंह को वारंट बी पर लाने की तैयारी देहरादून पुलिस कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed