श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ योगिक साइंस और नेचुरोपैथी के विधार्थियों ने राष्ट्रीय पात्रता

परीक्षा यूजीसी में नेट और जेआरएफ में सफलता प्राप्त कर श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय का नाम रोशन किया|
इस अवसर पर श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय के कुलाधिपति


श्री महेंद्र देवेंद्र दास जी महाराज ने उत्तीर्ण छात्रों के उज्जवल भविष्य की कामना की

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर डॉ. यशबीर दीवान ने विश्वविद्यालय के अन्य छात्रों को भी इन सफल छात्रों से प्रेरणा लेने के लिए प्रेरित किया


इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ अजय कुमार खंडूड़ी ने कहा कि देशभर के लाखों छात्र-छात्राएं हर साल अपने चुने हुए अध्ययन क्षेत्र में उच्च शिक्षा और शोध करने के लिए यूजीसी- नेट की परीक्षा देते हैं।विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) की ओर से एनटीए को यूजीसी-नेट परीक्षा आयोजित कराने की जिम्मेदारी दी जाती है. इस परीक्षा को पास करने के बाद उम्मीदवार सहायक प्रोफेसर के साथ-साथ जूनियर रिसर्च फैलोशिप (जेआरएफ) के लिए पात्र हो जाता है| उन्होंने कहा कि परीक्षा के लिए विश्वविद्यालय के सभी स्नातकोत्तर छात्रों को प्रयास करना चाहिए| क्योंकि यह राष्ट्रीय स्तर पर उच्च शिक्षा के क्षेत्र में पात्रता परीक्षा होती है श्री गुरू राम विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ योगिक साइंस और नेचुरोपैथी के संकायध्यक्ष प्रोफेसर डॉ. कंचन जोशी ने जानकारी दी कि एम ए यौगिक साइंस के सुधांशु ने जेआरएफ वहीं आयुष शर्मा और साक्षी गोयल ने यूजीसी नेट, एमएससी योगिक साइंस थर्ड सेमेस्टर के दिव्या शिवम और सौरव ने यूजीसी नेट परीक्षा में उत्तीर्ण होकर श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय के योग एवं नेचुरोपैथी विभाग का नाम रोशन किया है|
इस अवसर पर प्रोफेसर सरस्वती काला, डॉ. अनिल थपलियाल, डाक्टर सुरेंद्र प्रसाद रयाल, डॉक्टर बिजेंद्र सिंह और अंशु ने छात्रों को उज्ज्वल भविष्य की शुभकामना दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed