उत्तरकाशी
सीएम पुष्कर सिंह धामी उत्तरकाशी पहुंचे सिलक्यारा टनल रेस्क्यू स्थल पर पहुंचे सीएम
रेस्क्यू स्थल का सीएम धामी ने जायजा लिया उत्तरकाशी में तेजी से रेस्क्यू ऑपरेशन- CM धामी
सुरंग में सब ठीक है, जल्द वापसी होगी- सीएम सुरंग के अंदर मैन्युअल ड्रिलिंग में तेजी- सीएम52 मीटर तक ड्रिलिंग हो चुकी है- सीएम धामी


उत्तराखंड के उत्तरकाशी टनल हादसे का आज 17 वां दिन है। 41 मजदूर अब भी टनल के अंदर ही फंसे हैं। Uttarkashi rescue operation हालांकि, मजदूरों को बाहर निकालने के लिए प्रयास लगातार जारी है। अब वर्टिकल के साथ-साथ मैनुअल ड्रिलिंग की जा रही है।
इस बीच मौसम विभाग की ओर से बारिश और बर्फबारी का अलर्ट भी जारी किया गया है। जिससे ऑपरेशन के दौरान और चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। मंगलवार सुबह भी सुरंग के अंदर मैनुअल ड्रिलिंग जारी रही। जिसकी तस्वीरें भी सामने आई हैं। पाइप को धकेलने के लिए ऑगर मशीन का उपयोग किया जा रहा है। अब तक करीब 2 मीटर मैनुअल ड्रिलिंग का काम पूरा हो चुका है मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को सिलक्यारा, उत्तरकाशी में सिलक्यारा टनल रेस्क्यू ऑपरेशन का जायज़ा लिया। उन्होंने टनल के प्रवेश द्वार पर स्थित बाबा बौखनाग के मंदिर पर पूजा अर्चना कर सभी श्रमिकों के सकुशल रेस्क्यू होने की कामना की मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने टनल में चल रहे मैन्युअली डिगिंग कार्य के संबंध में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा डिगिंग कार्य हेतु पाइप में गए श्रमिकों की सुरक्षा का भी ध्यान रखा जाए। उन्होंने मैन्युअल मैन्युअल डिगिंग कर रहे श्रमिकों से वार्ता कर उनका हौसला बढ़ाया एवं राहत बचाव कार्य में जुटे सभी श्रमिकों के काम की सराहना की ।
मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने अधिकारियों से अंदर फंसे श्रमिकों का कुशलक्षेम एवं निरंतर डॉक्टरों मनोचिकित्सकाे एवं श्रमिकों के परिवार जनों से अंदर फंसे श्रमिकों की निरंतर वार्ता करवाने के निर्देश दिए ।
मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने सिलक्यारा स्थित मीडिया सेंटर में प्रेस ब्रीफिंग करते हुए बताया कि सभी श्रमिक इंजीनियर विशेषज्ञ अधिकारी पूरी शिद्दत एवं मेहनत के साथ हर संभव प्रयास में जुटे हुए हैं। उन्होंने बताया अब तक कुल 52 मीटर पाइप को पुश कर लिया गया है। उन्होंने बताया अंदर फंसे से सभी श्रमिकों का स्वास्थ्य सकुशल है। राहत एवं बचाव कार्य में जुटे सभी लोग पूरी ऊर्जा और सकारात्मक भाव के साथ कार्य कर रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी निरंतर अस्थायी सीएम कैम्प कार्यालय, मातली से रेस्क्यू अभियान पर नजर बनाए हुए हैं। आज सुबह वह मातली से श्रमिकों का कुशलक्षेम से जानने सिलक्यारा टनल पर पहुंचे।
इस दौरान प्रधानमंत्री के पूर्व सलाहकार एवं उत्तराखंड सरकार के विशेष कार्याधिकारी भास्कर खुल्बे, कमिश्नर गढ़वाल मंडल विनय शंकर पांडे, , रेस्क्यू आभियान के समन्वयक सचिव डॉ. नीरज खैरवाल, पीएमओ उप सचिव मंगेश घिल्डियाल, सूचना महानिदेशक बंशीधर तिवारी, जिलाधिकारी अभिषेक रूहेला, एसडीआरएफ कमांडेंट मणिकांत मिश्रा एवं अन्य लोग मौजूद रहे।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सिल्कयारा पहुंचे। उन्होंने कहा कि जल्दी मजदूरों को निकालने की उम्मीद है। सुरंग के अंदर मैन्युअल ड्रिलिंग में तेजी है। 57 मीटर तक ड्रिलिंग होनी है। 57 मीटर की दूरी पर सुरंग में पहुंचेंगे। सीएम धामी ने बचाव अभियान की जानकारी ली। सुरंग में सब ठीक है, जल्द मजदूरों को निकाल लिया जाएगा। 52 मीटर अंदर जा चुके हैं, ज्यादा दिक्कत नहीं है। बड़ी बाधाएं दूर कर ली गई हैं।
आईएएस नीरज खैरवाल ने सिल्क्यारा टनल रेस्क्यू ऑपरेशन पर अब ऑगर मशीन से आगे की ड्रिलिंग नहीं की जाएगी। दरअसल, टनल में फंसे 41 लोगों को बाहर निकालने के लिए चल रहे रेस्क्यू ऑपरेशन के तहत अभी वर्टिकल और होरिजेंटल दोनों तरफ से खुदाई का काम शुरू कर दिया गया है। पहाड़ के ऊपर से वर्टिकल ड्रिलिंग की जा रही है। वहीं, सुरंग के भीतर से स्केप टनल के काम को आगे बढ़ाया जा रहा है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed