अपर मुख्य सचिव आनंद वर्द्धन से आवास व नगर विकास प्राधिकरण हटा कर आईएएस मीनाक्षी सुंदरम को कुछ मजबूत विभाग दिए गए

आईएएस मीनाक्षी सुंदरम को आवास के साथ CEO हरिद्वार-ऋषिकेश गंगा कॉरिडोर परियोजना बनाया गया

आईएएस सुधांशु से शहरी विकास वापस लिया गया

आईएएस बगौली को सचिव गृह व पेयजल विभाग अलग से सौंपा गया।

आईएएस नीतेश झा को शहरी विकास व सूचना प्रौद्योगिकी की अतिरिक्त जिमेदारी दी गयी।

आईएएस दिलीप जावलकर से गृह हटाकर सहकारिता विभाग सौंपा गया।

आईएएस रविनाथ रमन से तकनीकी विभाग हटा दिया।

आईएएस रंजीत सिन्हा से आपदा हटाकर तकनीकी विभाग की जिम्मेदारी दी गयी। सिन्हा से कुछ अन्य विभाग भी हटाये।

आईएएस हरि चंद सेमवाल से पंचायती हटा कर महिला सशक्तिकरण व बाल विकास के साथ आयुक्त खाद्य की जिम्मेदारी भी दी गयी।

आईएएस चंद्रेश यादव को पंचायती राज दिया गया। जबकि जनगणना, संस्कृत व महिला बाल विकास वापस लिया गया।

आईएएस बृजेश कुमार संत से समाज कल्याण वापस लेकर परिवहन की जिम्मेदारी दी गयी।

आईएएस नीरज खैरवाल से नियोजन वापस लेकर समाज कल्याण विभाग दिया गया।

आईएएस सुरेंद्र नारायण को शहरी विकास व सूचना प्रौद्योगिकी विभाग सौंपा गया। जबकि आवास,वित्त समेत कुछ विभाग हटाये।

आईएएस विनोद कुमार सुमन को वित्त,आडिट,आपदा प्रबंधन पुनर्वास,राज्य आपदा प्राधिकरण, समेत अन्य विभाग सौंपे गए। जबकि कृषि, मत्स्य,सहकारिता वापस लिए गए।

I I S दीपक कुमार को संस्कृत व जनगणना विभाग सौंपे गए

आईएफएस मधुकर धकाते को जलागम की जिम्मेदारी दी गयी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed