जिले में लगातार हो रही बारिश के चलते बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग जगह-जगह मलवा आ जाने से अवरुद्ध हो गया है। चटवापीपल में मोटर साइकिल के ऊपर पहाड़ से मलबा गिरने से दो लोगों की मौत हो गई हैं। वहीं नदी नाले भी उफान पर हैं
उत्‍तराखंड में मानसून जमकर बरस रहा है। राज्‍यभर में रुक-रुक कर बारिश का दौर जारी है। जिससे जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है। वहीं चमोली जिले में शुक्रवार रातभर हुई बारिश शनिवार सुबह भी जारी रही। बदरीनाथ हाईवे भनेरपानी, छिनका, पीपलकोटी, पागलनाला, पिनोला और कंचनगंगा में बंद है। सैकड़ों यात्री हाईवे खुलने का इंतजार कर रहे हैं
उधर बदरीनाथ हाईवे पर चटवापीपल में मोटर साइकिल के ऊपर पहाड़ से मलबा गिरने से दो ब्यक्ति दब गए हैं, जिनकी मौके पर ही मौत हो गई। दोनों लोग हैदराबाद निवासी थे जिले में नदियां उफान पर
कर्णप्रयाग में संगम घाट भी जलमग्न हो गया है। नदियां उफान पर हैं। आपदा प्रबंधन विभाग चमोली से मिली जानकारी के अनुसार जिले में 36 सड़क मार्ग मलवा जाने से बन्द हो गए हैं जिन्हें बहाल किए जाने के प्रयास किया जा रहे हैं। वहीं जोशीमठ बदरीनाथ में भारी बारिश होने से अलकनंदा नदी का जलस्तर खतरे के निशान के करीब पहुंच गया है। विष्णु प्रयाग में जल स्तर काफी ऊपर तक पहुंच चुका है शनिवार को भी राज्‍य में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। मौसम विभाग के अनुसार आज भी कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है। जिससे नदी-नालों में उफान और पहाड़ी क्षेत्र में भूस्खलन की आशंका है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed