चमोली जिले के गोपेश्वर 1008 गीता स्वामी उत्कृष्ट राजकीय इंटर कॉलेज परिसर में आज से दो दिवसीय राज्य स्तरीय द्वितीय सीमांत पर्वतीय बाल विज्ञान महोत्सव शुरू हो गया है । कर्णप्रयाग विधायक अनिल नौटियाल ने महोत्सव का शुभारंभ किया।महोत्सव में चमोली के अलावा रुद्रप्रयाग, चंपावत,बागेश्वर, उत्तरकाशी और पिथौरागढ़ जिले के 240 बाल वैज्ञानिक प्रतिभाग कर रहे हैं। बता दें कि महोत्सव में पांच प्रतियोगिताएं पोस्टर प्रदर्शनी, विज्ञान प्रश्नोत्तरी,कविता पाठ, नाटक और विज्ञान ड्रामा और अन्य प्रतोगिताएं होगी। यह आयोजन यूकॉस्ट के महानिदेशक प्रोफेसर दुर्गेश पंत के निर्देशन में आयोजित हो रहा है प्रदेश के सीमांत जनपदों के बाल वैज्ञानिकों में छिपी प्रतिभा को सामने लाने के उद्देश्य से उत्तराखंड राज्य विज्ञान एवम प्रौद्योगिकी परिषद (यूकॉस्ट) की ओर से पिछले वर्ष सीमांत जिला पिथौरागढ़ से सीमांत पर्वतीय जिलों के छात्रों के लिए सीमांत पर्वतीय जनपद बाल विज्ञान महोत्सव का आयोजन की शुरुआत की गई थी। इस अवसर पर विधायक अनिल नौटियाल, जिलाधिकारी चमोली श्री हिमांशु खुराना, नगरपालिका अध्यक्षा श्रीमूती पुष्पा पासवान, चमोली जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष गजेन्द्र सिंह रावत, मुख्यमन्त्री के निजी सलाहकार श्री दलवीर सिंह दानू, मुख्य शिक्षा अधिकारी चमोली श्री कुलदीप गैरौला, प्रधानाचार्य संयोजक श्री करमबीर सिंह, जिला समन्वयक -श्री आर. पी. थपलियाल एवं प्रकोष्ट के महानिदेशक प्रो० दुर्गेश पन्त, कार्यक्रम नोडल अधिकारी डा. आशुतोष मिश्रा, इन्जीनियर जितेन्द्र कुमार, वरिष्ठ डी. एस. बैज्ञानिक रौतेला जनपदीय सहसमन्वयक श्री नरेन्द्र सिंह रावत, सभी जनपदों के जिला समन्वयक, प्रोफेसर सुनीता विद्यार्थी ने विषय विशेषज्ञ के रूप में प्रतिभाग किया। मार्गदर्शक शिक्षक व 240 बाल वैज्ञानिक कार्यक्रम में सम्मिलित हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed