देहरादून कला विषय के लिए बीएड को अब अनिवार्य कर दिया गया है। कैबिनेट में इसके प्रस्ताव को मंजूरी मिलने से एलटी संवर्ग के 300 से अधिक पदों पर भर्ती का रास्ता साफ हो गया। विभाग की ओर से एलटी संवर्ग में भर्ती के लिए उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को 1592 पदों पर भर्ती का प्रस्ताव भेजा गया है। शिक्षा विभाग में पूर्व में एलटी संवर्ग में भर्ती की प्रक्रिया शुरू की गई थी, लेकिन कला विषय एलटी शिक्षकों के लिए वर्ष 2020 में नॉन बीएड कर दिया गया था। कुछ अभ्यर्थी इसके खिलाफ कोर्ट चले गए थे। जिससे कला विषय के 300 पदों पर भर्ती की प्रक्रिया पिछले काफी समय से लटकी थी प्रदेश के एलटी संवर्ग के शिक्षकों के लिए बड़ी राहत की खबर है। इन शिक्षकों के अब अंतरमंडलीय तबादले हो सकेंगे। पूरे सेवाकाल में शिक्षक एक बार एक से दूसरे मंडल में तबादला पा सकेंगे। कैबिनेट में इसके प्रस्ताव को मंजूरी मिल गई है। राजकीय शिक्षक संघ की ओर से पिछले काफी समय से इसकी मांग की जा रही थी प्रदेश में 12 हजार से अधिक एलटी संवर्ग के शिक्षक हैं। इनमें कई शिक्षक गढ़वाल मंडल के निवासी होने के बावजूद कुमाऊं मंडल में तैनाती पा गए हैं। इसी तरह कुमाऊं मंडल के शिक्षक गढ़वाल मंडल में कार्यरत हैं। जो अपने मंडल में तैनाती चाहते हैं, लेकिन सहायक अध्यापक एलटी का मंडल कैडर होने की वजह से शिक्षकों के एक से दूसरे मंडल में तबादले नहींहो पा रहे थे, लेकिन अब कैबिनेट की मंजूरी के बाद उत्तराखंड अधीनस्थ शिक्षक सेवा नियमावली में संशोधन किया जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed